प्रदेश

श्रम विभाग की कालोनियों में 1982 से अवैध रूप से रह रहे 109 परिवार को आवास खाली करने का नोटिस,

Report: Randha Singh

चन्दौली: खबर यूपी के जनपद चन्दौली से है, जहाँ अलीनगर- चांदी तारा स्थित श्रम विभाग की कालोनियों में 1982 से अवैध रूप से रह रहे 109 परिवार को आवास खाली करने का नोटिस मिलते ही इलाके में खलबली मच गई. नोटिस मिलते ही अवैध कब्जाधारी इकट्ठे होकर नारेबाजी करने लगे, लेकिन जिला प्रशासन ने अवैध कब्जाधारियों को सात दिन का अल्टीमेटम दिया है, और उसके बाद खाली न होने की दशा में कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी गयी है,

बता दें कि श्रम विभाग की इन कालोनियों को लाल कालोनी भी कहा जाता है, जहां कई दशक से अवैध कब्जाधारी काबिज हैं, सरकार ने यहां एनडीआरएफ का सेंटर बनाने का फैसला लिया है, जिसके तहत अवैध कब्जाधारियों को कालोनी किसी भी दशा में खाली करनी ही पड़ेगी.

आपको बतादे कि यह कालोनी अवैध कब्जे के चलते अपराधियो की शरण स्थली भी बन चुकी है, जहाँ करीब एक दशक पूर्व हुए बम धमाके के बाद बम स्क्वायड ने कई जिंदा बम बरामद भी किये थे, लेकिन न जाने किन कारणों से इस जगह पर अब तक किसी भी तंत्र की नजर नही गयी.

बताया जाता है कि यहां बिहार के ज्यादातर निवासी कब्जा धारक है और अपराध करने के बाद छुपने के लिए यह जगह महफूज रही है, क्योंकि इस कालोनी का संपर्क मार्ग दुरूह है. कतिपय पत्रकारों ने भी इस कालोनी में अपना कब्जा जमाया हुआ है.

जिसके वजह से यहां के अपराध का खुलासा नही हो पाता था, लेकिन अब जिला प्रशासन ने जो नोटिस जारी कर अवैध कब्जाधारियों की सूची बनाई है उसमें पत्रकार का नाम भी स्पष्ट देखने को मिल रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *