ईद के मौके पर गरीबों को डॉ महेंद्र ने बाटें कपड़े

मोजो ब्यूरो- फर्रुखाबाद
अनिल कुमार

कायमगंज/फर्रुखाबाद। मानवता इंसानियत और एकता दिखाकर यह सिद्ध करें कि हम पशुओं से बेहतर क्यों हैं यह वक्त मनमुटाव का नहीं बल्कि इंसानियत मानवता और एकता दिखाने का वक्त है और यह सिद्ध करने का है यह कहना किसी और का नहीं बल्कि हिंदू मुस्लिम एकता के नायक और हिंदू मुस्लिम भाइयों के दिलों पर राज करने वाले जनपद के प्रमुख समाजसेवी डॉ महेंद्र गुप्ता चेयरमैन महिंद्रा आई हॉस्पिटल कायमगंज का है उनका कहना है कि सभी मुस्लिम भाई बहने बुजुर्ग और माताएं रमजान के पवित्र माह में और ईद के मुबारक मौके पर मुल्क की हिफाजत और रिश्तो की दरारों को भरने के लिए खुदा से दुआ मांगे उन्होंने अपने लफ्जों को एक शायरी के माध्यम से कहा कि कुछ जाते हैं मंदिरों में ,कुछ मस्जिदों की राह अपनाते हैं ,पर मकसद तो सब का एक ही है ,जिसे लोग खुशी की फरियाद कहते हैं , वह एक ही हसती एक ही वजूद है , जिसने यह सारा जहान बनाया है ,फर्क इतना है कि कुछ उसे खुदा तो कुछ भगवान कहते हैं।। समाज को धर्म पर बांटने की के नाम पर बांटने की स्वार्थी तत्वों की कोशिशें कभी कामयाब नहीं होगी भारत का सर्व धर्म समभाव का स्वरूप हमेशा कायम रहेगा प्रमुख समाजसेवी डॉ महेंद्र गुप्ता किसी पहचान के मोहताज नहीं है आज अलविदा की नमाज के बाद गरीब मुस्लिम परिवारों के बीच में जाकर बुजुर्गों मां बहनों बच्चों को ईद पर पहनने के लिए नए कपड़े बांटे नए कपड़ों को पाते ही सभी लोगों के चेहरे खुशी से खिल गए और उन्होंने डॉ महेंद्र को ढेर सारी दुआएं दी जब से पूरे विश्व में वैश्विक महामारी करोना ने अपने पैर पसारे तभी कुछ दिनों बाद से ही डॉ महेंद्र अनवरत गरीब असहाय मजदूरों रोज कमाने खाने वालों के लिए और बेजुबान पशु पक्षियों के लिए उनके खाने-पीने की व्यवस्थाराशन की व्यवस्था अनवरत कर रहे हैं उन्होंने अपने अस्पताल में गरीबों असहाय लोगों के लिए भोजनशाला भी चला रखी है जिसमें हर रोज सैकड़ों लोग रोज सुबह-शाम भोजन पाते हैं अपनी निस्वार्थ समाज सेवा के लिए अपनी अलग पहचान रखने वाले डॉ महेंद्र के हृदय में देश में चल रहे संकट वैश्विक महामारी कोरोना काल में संसार में रहने वाले हर इंसान पशु पक्षियों की दयनीय दशा देखते हुए उनके हृदय में बहुत पीड़ा है उनका कहना है कि ऐसे मुश्किल समय में सभी लोगों को एकजुट होकर के इस महामारी से जंग जीतना है सभी लोगों से उन्होंने अपील की कि जो भी व्यक्ति इंसानियत की जितनी सेवा कर सकता है अपनी हैसियत के अनुसार ज्यादा से ज्यादा लोगों की मदद करें यह मनमुटाव का नहीं बल्कि यह वक्त मानवता इंसानियत और एकता को दिखाने का है सारी दुनिया को यह बताने का है कि हम पशुओं से बेहतर क्यों हैं विपत्ति के समय हम सब एक हो जाते हैं हमारा भारत विभिन्न संस्कृतियों का देश है जो समूचे विश्व में अपनी अलग पहचान रखता है जो लोग समाज को धर्म के नाम पर बांटने की कोशिश करते हैं जहान बनाया है फर्क को एकजुट सभी हिंदू मुस्लिम भाइयों को बिना भेदभाव किए जकात जरूर निकालना चाहिए नमाज के बाद इस्लाम का सबसे बड़ा स्तंभ जकात है इसलिए बिना जाति धर्म और भेदभाव किए हुए हर जरूरतमंद गरीब असहाय लोगों की मदद करना चाहिए मेरी सभी हिंदू और मुसलमानों भाइयों से गुजारिश है कि जो जिस काबिल है वह जरूरतमंद की मदद अवश्य करें कोरोना वायरस लंबे समय तक सताएगा परेशान करेगा जिंदगी को पटरी पर आने में लंबा समय लगेगा इसके लिए हम और आप तैयार रहें घर में ही दरबार एक खुदा लगाकर अल्लाह की इबादत करें और अमन शांति और कोरोना के खात्मे की दुआ करें डॉ महेंद्र ने कहा कि अल्लाह और इंसान के बीच का रिश्ता बड़ा करीबी है इस रिश्ते की बुनियाद कुछ खास उसूलों पर टिकी है इंसान के रूप में जो कुछ भी है वह उसका मालिक होकर भी मालिक नहीं है इंसान का जिस्म और रूह भी अल्लाह और ईश्वर की अमानत है इसलिए इंसानियत की सेवा करें गुनाहों से दूर रहें और अमन और चैन से रहे पांचों वक्त की नमाज में मुल्क की हिफाजत और रिश्तो की दरारों को प्रेम से भरने की खुदा से दुआ मांगे यही मेरी आप सब से गुजारिश है आज मानवता को हमारी सेवाओं की बहुत जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *