आईजी मोहित अग्रवाल ने कोतवाली मोहम्मदाबाद के निरीक्षण के दौरान अपनी मुंहबोली बिटिया को सौंपी 1 लाख की एफडी

मोहम्मदाबाद/ फर्रुखाबाद। नोडल अधिकारी के रूप में जिले की कानून व्यवस्था को अपने दो दिवसीय दौरे में जांचने आये कानपुर परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने आज कोतवाली में रजिस्टर नंबर 8 मंगवा कर पुराने अपराधियों की गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी ली। शास्त्रागार जांचा, कोतवाली प्रभारी को निर्देश दिये कि टाॅपटेन मुल्जिमों पर पूरी नजर रखें। कोविड केअर हेल्प डेस्क की व्यवस्थाओं को देखा। जिले की कानून व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक डाॅ. अनिल मिश्र की कार्यशैली को सराहा। कोतवाली का औचक निरीक्षण करने के दौरान आईजी अग्रवाल की खास नजर करथिया काण्ड में मारे गये सुभाष बाथम की अनाथ बिटिया गौरी पर रही। उन्होंने गौरी को उसकी बुआ वेदवती से बुलवाकर जानकारी ली साथ ही गौरी के लिए 1 लाख रुपये की एफडी और लिफाफा पैक रक्षाबंधन तोहफे के रूप में 5 हजार रुपये भेंट किये साथ ही चाॅकलेट और खिलौनों के तोहफे देकर गौरी को दुलारा साथ ही अपना निजी मोबाइल नंबर देकर गौरी की बुआ से कहा कि अगर किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़े तो उनसे तुरन्त सम्पर्क करें। गौरी के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया।
आईजी अग्रवाल ने कोतवाली के शस्त्रागार का गहनता से निरीक्षण किया। यहां मौजूद स्टाॅक की जानकारी की। उन्होंने कहा कि जिले की कानून व्यवस्था को कड़ाई से सुदृढ़ बनाना हमारी जिम्मेदारी है। पुलिस बिना किसी संरक्षण और खौफ के अपना काम करे। सरकार कानून व्यवस्था को सुचारू रखने के लिए प्रतिबद्ध है। यहां पुलिस अधीक्षक डाॅ. अनिल मिश्र, क्षेत्राधिकारी सोहराब आलम, इंस्पेक्टर राकेश कुमार सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *